रिटायरमेंट के बाद कैंसर (युवीकैन फाउंडेशन) ही मेरा कार्यक्षेत्र

दोअाबा रिपोर्टर/नई दिल्ली (मुकुल शर्मा) काफी लम्बे समय तक टीम इंडिया की रीढ़ की हड्डी रहे और वर्ल्ड कप में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले भारतीय स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह का कहना है की अभी उनमे कई और साल क्रिकेट खेलने की काबिलियत है उन्होंने क्रिकेट पर संन्यास को लेकर कहा है कि में अभी क्रिकेट से सन्यांस नहीं लेना चाहता हूँ में केवल अपनी शर्तों पर ही क्रिकेट से संन्यास लूंगा साथ ही उन्होंने कहा है कि अभी भी उन्होंने इंडिया टीम में वापसी की उम्मीद नहीं छोड़ी है और युवराज ने यह भी कहा है कि वह अभी कुछ और साल तक आईपीएल भी खेलते रहेंगे।
साथ ही युवराज ने एक स्पोर्ट्स चैनल के इंटरव्यू में कहा कि ”रिटायरमेंट के बाद कमेंटरी करना मेरे लिए संभव नहीं होगा. मैं कैंसर (युवीकैन फाउंडेशन) मेरा कार्यक्षेत्र होगा. लेकिन मैं युवा क्रिकेटरों के साथ भी काम करना चाहूंगा. मैं नई पीढ़ी के क्रिकेटरों के साथ संवाद बनाना चाहता हूं. मेरे जहन में कोचिंग प्रमुखता से है. मैं अंडरप्रिविलेज्ड बच्चों के साथ काम करना चाहता हूं, उन्हें स्पोर्ट और एजुकेशन देना चाहता हूं. क्योंकि खेल और शिक्षा दोनों ही जीवन में अहम हैं. आपको दोनों पर फोकस करना होता है. और खेल शिक्षा की कीमत पर नहीं होने चाहिए।”
रिटायरेमेंट के सवाल पर उन्होंने कहा ”मैं किसी अफसोस के साथ इस खेल को नहीं छोड़ना चाहता. मुझे लगता है कि अभी मैं कुछ साल और खेल सकता हूं. मैं घर वापस उस समय जाना चाहता हूं, जब मुझे लगे कि इसका सही समय आ गया है. मैं अब भी खेल रहा हूं और खेल का आनंद उठा रहा हूं. इसलिए नहीं कि मुझे टीम इंडिया के लिए खेलना है या आईपीएल में खेलना है. मेरी प्रेरणा जाहिर है भारत के लिए ही खेलने की है. फिर भी मुझे लगता है कि मैं अभी तो या तीन आईपीएल खेल सकता हूं.” गौरतलब है कि कैंसर से बाहर आने के बाद युवराज लगातार टीम इंडिया से अंदर बाहर होते रहे हैं. और मिडिल ऑर्डर में आए हुए नए बल्लेबाजों ने उनकी मुसीबते और बड़ा दी है।

Share
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *