देश मना रहा है 69वां गणतंत्र दिवस

नई दिल्ली (विक्रम शर्मा) देश आज अपना 69वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। गणतंत्र दिवस का गवाह बनने के लिए राजपथ पूरी तरह से तैयार है। इस बार की परेड करीब 90 मिनट तक चलेगी जिसमें देश की सैन्य ताकत और सांस्कृतिक विरासत दोनों एक साथ दिखेंगी साथ ही इस बार 10 विशेष मेहमान गणतंत्र दिवस समारोह में शिरकत करेंगे। पहली बार है जब भारत ने गणतंत्र दिवस के मौके पर दो से ज्यादा अतिथियों को अमंत्रित किया है। इस बार 10 आसियान देशों के नेता परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे। – इस बार 23 झांकियों में से दो आसियान देशों को समर्पित रहेगी और ये इन देशों में शिक्षा, व्यापार, संस्कृति और धर्म को प्रदर्शित करेंगी। बच्चे इन देशों के गीत भी गाएंगे। पहली बार BSF की महिला टुकड़ी मोटर साइकिलों पर स्टंट दिखाते हुए नारीशक्ति का प्रदर्शन करेगी। – 113 सदस्यीय इस टीम की अगुवाई लद्दाख क्षेत्र की सब-इंस्पेक्टर स्तानजिन नोरियांग करेंगी। – BSF की महिला टुकड़ी मोटरसाइकिलों पर 16 तरह के स्टंट दिखाएंगी। पहली बार आकाशवाणी की झांकी को भी परेड में जगह दी गई है।
इस झांकी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम ‘मन की बात’ की झलक होगी। – ये पहली बार होगा जब गणतंत्र दिवस की परेड में आयकर विभाग की भी झांकी दिखाई देगी। आयकर विभाग की झांकी में विशेष तौर पर नोटबंदी और उसके बाद शुरु किया गया कालाधन-रोधी विशेष अभियान होगा। – इस बार राजपथ से पूरी दुनिया हिंदुस्तान की ताकत देखेगी। एक दर्जन से ज्यादा स्वदेशी हथियार परेड में दिखाए जाएंगे जिसमें रडार से लेकर मिसाइलें और तोप खाने से लेकर रेकी वाहन शामिल हैं। – देश में निर्मित हेलीकॉप्टर रुद्र का जलवा भी इस बार राजपथ पर परेड के दौरान दिखेगा। – साथ ही देसी बोफोर्स के नाम से मशहूर धनुष तोप परेड में पहली बार सार्वजनिक तौर पर सामने लाया जाएगा। इसकी मारक क्षमता बोफोर्स से भी ज्यादा है।
ब्रह्मोस मिसाइल को भी गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल किया गया है। – फ्लाईपस्ट समारोह में 21 सेनानियों, 12 हेलीकॉप्टर और पांच ट्रांसपोर्टर सहित 38 विमान भाग लेंगे। इस बार 26 जनवरी की परेड में कुछ ऐसा होगा जो आज तक नहीं हुआ। इस परेड में बीएसएफ की महिला जवान शामिल होंगी। साधारण परेड करती हुई नहीं बल्कि खतरनाक बाइक स्टंट करती हुई जो अब तक सिर्फ पुरुष जवान ही करते थे। सीमा सुरक्षा बल यानी BSF की 113 महिला बाइकर्स इस बार गणतंत्र दिवस परेड में 350 सीसी की 26 रॉयल एनफील्ड मोटरसाइकिलों पर सवार होकर एरोबेटिक्स और स्टंट करेंगी। -जम्मू-कश्मीर के लदाख क्षेत्र में BSF की सब इंस्पेक्टर स्टैन्जीन नॉरयांग की अगुआई में ये स्टेंट होगा। सभी महिलाओं की उम्र 20 से 31 साल की है। -मोटरसाइकिल वाहन दल में शामिल प्रतिभागियों का चयन भारत की विविधता में एकता को ध्यान में रखकर किया गया है। दल में शामिल 15 महिलाएं शादीशुदा हैं, जबकि 113 अविवाहित हैं। – ये परंपरा रही है कि बीएसएफ और सेना के बाइक सवार जांबाज हर साल बारी-बारी से गणतंत्र दिवस परेड का समापन करते हैं। इस साल बीएसएफ की बारी है, जिसमें महिलाओं का दल पिरामिड, फिश राइडिंग, शक्तिमान, बुल फाइटिंग, सीमा प्रहरी और दूसरे हैरतअंगेज करतब दिखाने की तैयारी में है। 26 जनवरी को महिलाओं की शक्ति तो देखने को मिलेगी लेकिन परेड की शुरुआत 5 एमआई-17 हैलिकॉप्टर उड़ान भरकर करेंगे। इस साल पहली बार स्वदेशी एडवांसड लाईट हैलिकॉप्टर मार्क 4 रूद्र इस परेड फ्लाईपास्ट का हिस्सा होंगे। इन हैलिकाप्टर में भारतिय तिरंगे और तीनों सेना के ध्वज के साथ साथ आसियान ध्वज भी होगा। – इसके अलावा पहली बार परेड में शामिल हो रही कम उंचाई से जमीन से जमीन पर 1000 किमी तक सटीक मार करने वाली निर्भय मिसाईल भी लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचेंगी।

Share
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *