सुनंदा पुष्कर हत्याकांड में शशि थरूर की मुश्किल बढ़ी, दिल्ली पुलिस की फाइनल रिपोर्ट में आया नाम

नई दिल्ली: करीब साढ़े चार साल बाद देश की सबसे बड़ी पोलिटिकल मर्डर मिस्ट्री सुलझती नजर आ रही है। 2014 में जनवरी के महीने में दिल्ली के होटल लीला से एक खबर आई कि कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर का मृत शरीर उनके कमरे में मिला है। तब से लेकर आज तक इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि उनका हत्यारा कौन था। लेकिन अब दिल्ली पुलिस की फाइनल रिपोर्ट में शशि थरूर का नाम शामिल किया गया है। थरूर पर आत्महत्या के लिए उकसाने,सबूतों को नष्ट करने का मामला शामिल है। सेक्शन 201 (सबूतों से छेड़छाड़ मामले में) अधिकतम सजा 10 साल है,वहीं आत्महत्या के लिए उकसाने के केस में भी अधिकतम सजा 10 साल है। कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के लीला होटल के अपने कमरे में मृत अवस्था में मिली थीं। उनकी मौत को लेकर कई सवाल थे। पहले ये कहा जा रहा था कि उनकी मौत नेचुरल थी। लेकिन एम्स की रिपोर्ट ने इस बात की तरफ इशार किया कि सुनंदा की मौत नेचुरल नहीं थी। सुनंदा पुष्कर की विसरा जांच से भी ये जानकारी सामने आई कि उनको जहर दिया गया था। सुनंदा की शरीर पर चोट के निशान भी थे। दिल्ली पुलिस की इस बात के लिए खिंचाई हुई थी कि उसने सही ढंग से केस की जांच नहीं की थी।

Share
  • 3
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *