अफवाहें फैलने से लोगों में डर का माहौल, हनुमानगढ़ी मंदिर के बाहर बीएसएफ का पक्का मोर्चा

फगवाड़ा : चौक का नाम बदलने को लेकर हुई हिंसा के बाद सोमवार को भी लोगों में दहशत है। डीसी मोहम्मद तय्यब व एसएसपी संदीप शर्मा पिछले चार दिनों से ही फगवाड़ा में कैंप कर रहे हैं। सोमवार को कुछ हिंदू नेताओं के घरों के बाहर सहित हनुमानगढ़ी मंदिर के बाहर भी बीएसएफ का पक्का मोर्चा लगा दिया गया है। मंदिर के बाहर बड़ी संख्या में बीएसएफ व पंजाब पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं। इसी मंदिर के हाल में हिंदू संगठनों व जरनल समाज के लोगों की बैठकें होती हैं। हिंसा के चौथे दिन भी फगवाड़ा में माहौल तनावपूर्ण है। बीच-बीच में कई तरह की अफवाहें फैलने से लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। सोमवार को सिनेमा रोड व गुड़ मंडी रोड सहित कुछ अन्य क्षेत्रों को छोड़कर शहर के सभी मुख्य बाजार पूरी तरह से बंद रहे। वहीं सरकारी स्तर पर कोई भी आदेश न होने के बावजूद शहर के अधिकांश स्कूल व शैक्षिक संस्थाएं भी बंद रही। इसके अलावा शहर के निजी एवं सरकारी बैंकों के शटर भी नीचे गिराए हुए थे। शहर में लगातार फ्लैग मार्च किया जा रहा है। उधर, नेशनल हाईवे पर आने जाने में किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं है। ट्रैफिक पूरी तरह से सुचारू रूप से चल रहा है।
डीसी मोहम्मद तैय्यब ने बताया कि हिंसा में घायलों के इलाज का सारा खर्च पंजाब सरकार करेगी। उन्होंने बताया कि यशवंत कुमार बॉबी का डीएमसी में उपचार चल रहा है। इसे लेकर लुधियाना के डीसी प्रदीप अग्रवाल ने नायब तहसीलदारों की ड्यूटी 24 घंटे डीएमसी अस्पताल में लगाई है। डीसी ने बताया कि जौहल अस्पताल में उपचाराधीन कुलविंदर के इलाज के लिए जिला रेडक्रास सोसायटी कपूरथला की ओर से 1.25 लाख रुपये का चेक जौहल अस्पताल को सौंप दिया गया है।
डीसी व एसएसपी ने कहा कि फगवाड़ा की स्थिति पूरी तरह से कंट्रोल में है। फ्लैग मार्च रेगुलर हो रहा है। जल्द ही पीस कमेटी की बैठक बुलाने पर भी विचार चल रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस की जांच में सामने आ रहा है, उसके अनुसार कार्रवाई चल रही है। प्रशासन की ओर से दुकानें व स्कूल बंद करने के कोई आदेश नहीं है। लोग अपनी मर्जी से बंद कर रहे है। उन्होंने लोगों से दुकानें खोलने की अपील की। एक ही पक्ष पर कार्रवाई के बारे में पूछे जाने पर एसएसपी संदीप शर्मा ने कहा कि पुलिस जांच में जुटी हुई है। उसी अनुसार कार्रवाई की जा रही है। डीसी ने शहरवासियों से झूठी अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह खुद फीडबैक ले रहे हैं। उनके द्वारा भी कानून व्यवस्था तोड़ने वालों से सख्ती से निपटने से हिदायतें दी गई हैं।
पुलिस लगातार इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। बताया जाता है कि पुलिस के हाथ अहम सुराग हाथ लगे हैं। इसी को आधार बना पुलिस अपनी जांच आगे बढ़ा रही है। फगवाड़ा की सड़कों व मुख्य सार्वजनिक स्थलों पर 200 के करीब सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। सोमवार को स्पेशल ब्रांच कपूरथला के डीएसपी संदीप सिंह मंड ने शहर का दौरा किया। इसके बाद गोल चौक के पास 2 और नए नाइट विजन कैमरे लगाए गए।रैपिड एक्शन फोर्स ने सोमवार को अकाल स्टेडियम में जिला कपूरथला के एसएसपी संदीप शर्मा, एएसपी संदीप कुमार, डीएसपी संदीप सिंह मंड, डीएसपी सोहन लाल की मौजूदगी में आरएएफ की डिप्टी कमांडेंट संगीता चौहान के नेतृत्व में दंगाइयों को कंट्रोल करने के लिए मॉक ड्रिल की। कमांडेंट संगीता चौहान ने कहा कि रैपिड एक्शन फोर्स दंगों को रोकने के लिए रैपिड काम करती है। डीसी ने जिला कपूरथला के अधीन आती सभी प्रिटिंग प्रेसों पर कोई भी भड़काऊ पोस्टर, फ्लैक्स बोर्ड, होर्डिग्स, पंफ्लेट आदि सामग्री छापने पर पूर्ण पाबंदी लगा दी है। ये आदेश 13 जून 2018 तक लागू रहेंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *