आखिर क्या है इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक और इसकी सेवाएं, जानिए सबकुछ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक का उद्घाटन किया. इसका उद्देश्य देश में डाकघरों की व्यापक पहुंच के माध्यम से लोगों तक बैंकिंग सेवाओं का लाभ पहुंचाना है. भारतीय डाक विभाग का पेमेंट्स बैंक पोस्ट ऑफिस के नेटवर्क और लगभग 3 लाख पोस्टमेन और ‘ग्रामीण डाक सेवक’ के माध्यम से काम करेगा. इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक की सेवाएं आज से ही 650 शाखाओं और 3,250 एक्सेस प्वॉइंट्स तक उपलब्ध होगी.
ये होगी सेवाएं
अगर दूसरे बैंकों से इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक की तुलना की जाए तो यह अभी काफी छोटे पैमाने पर काम करेगा. इसके साथ ही जोखिम को कम करने के लिए यह अग्रिम ऋण और क्रेडिट कार्ड की सेवाएं लोगों को मुहैया नहीं करवाएगा. हालांकि इसमें धन जमा करना, धन भेजना, मोबाइल के जरिए भुगतान/स्थानान्तरण/खरीद और दूसरी बैंकिंग सेवाएं जैसे एटीएम/डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग और थर्ड पार्टी फंड ट्रांसफर भी इससे किए जा सकेंगे.
इसमें धन जमा करने की अधिकतम सीमा 1 लाख रुपए होगी, इसके बाद खाता अपने आप ही डाकघर बचत खाते में परिवर्तित हो जाएगा. पेमेंट्स बैंक बचत खाते पर 4 फीसदी की दर से ब्याज देगा. वहीं आईपीपीबी को अपने स्वयं के सेट अप के साथ लगभग 17 करोड़ डाक बचत बैंक खातों को जोड़ने की अनुमति है.
ऐसे मिलेगी पेमेंट्स बैंक की सेवा
इस बैंक की सेवाएं काउंटर सर्विस, माइक्रो एटीएम, मोबाइल बैंकिंग एप, मैसेज और इंटरएक्टिव वॉइस सर्विस (आईवीआर) के जरिए उपलब्ध होंगी. वहीं आधार कार्ड के जरिए इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक में खाता खोला जा सकेगा. इसके अलावा क्यूआर कोड और बायोमेट्रिक के जरिए प्रमाणीकरण, लेनदेन और भुगतान किया जा सकेगा. लेनदेन को संभालने के लिए ग्रामीण डाक सेवकों के पास स्मार्टफोन और बॉयोमेट्रिक डिवाइस मौजूद रहेंगे.
फिलहाल 650 शाखाओं और 3,250 एक्सेस प्वॉइंट्स तक इसकी सेवा उपलब्ध है और दिसंबर तक सरकार का एक्सेस पॉइंट्स की संख्या 1.55 लाख तक बढ़ाना का लक्ष्य है, जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों में 1.30 लाख जगह शामिल होंगी.

Share
  • 3
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *