टिकटॉक का विक्लप चिंगारी’ ऐप

नई दिल्ली। भारत के डिजिटल इंटरटेनमेंट सेग्मेंट में अचानक ही टिकटॉक (TikTok App) की लोकप्रियता को अब भारतीय ऐप से टक्कर मिलने लगी है। चीनी उत्पादों के बहिष्कार करने के लिए लगातार चल रहे कैंपेन के बीच अब ‘ (चिंगारी ऐप) बेहद मनोरम होने लगा है। इस देसी ऐप को छत्तीसगढ़, ओड़िशा और कर्नाटक के आईटी प्रोफेशनल्स ने तैयार किया है, जिसे अब तक 25 लाख बार डाउनलोड किया जा चुका है।
इस ऐप को बनाने के लिए 2 साल का समय लगाया गया है। इसे भारतीय यूजर्स के जरूरत और मांग को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। आधिकारिक तौर पर इस ऐप को नवंबर 2018 में Google Play store (Google Play Store) पर रीलीज किया गया था। यह ऐप टिकटॉक से मिलता-जुलता प्लेटफॉर्म है। हालिया आंकड़ों से पता चलता है कि भारतीय यूजर्स इसे बेहतर रिस्पॉन्स दे रहे हैं। अब तक इसे 25 लाख बार डाउनलोड किया जा चुका है।
इस ऐप को ओड़िशा के विश्वात्मेक और कर्नाटक के सिद्धार्थ गौतम ने मिलकर डेवलप किया है। यह इकलौता भारतीय ऐप है, जो चीनी कंपनी के टिकटॉक ऐप को टक्कर दे सकता है। इस ऐप को यूजर्स को ओड़िया, गुजराती और मराठी जैसी कई क्षेत्रीय भाषाओं में भी उपलब्ध कराया जा रहा है। बता दें कि महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के आनंद महिंद्रा (आनंद महिंद्रा) ने भी इस ऐप के बारे में ट्वीट कर लिखा, ‘मैंने टिकटॉक ऐप डाउनलोड नहीं किया था। लेकिन, अभी तक इस चिंगारी ऐप को डाउनलोड किया है।’चिंगारी ऐप में ट्रेंडिंग न्यूज़, इंटरटेनमेंट न्यूज़, फनी वीडियोज, वीडियो सॉन्ग्स, लव कोट्स, स्टेटस वीडियोज जैसे फीचर्स हैं। इस ऐप पर अब हर रोज 10 हजार से ज्यादा लोग इंटरटेनमेंट कॉन्टेंट बना रहे हैं। इस ऐप की मदद से यूजर्स कई तरह के कॉन्टेन्ट के बारे में सर्च कर सकते हैं। उनके पास इसे डाउनलोड करने का भी विकल्प होगा। इसके अलावा यह ऐप यूजर्स क्रिएटिव स्किल दिखाने का भी मौका देता है।

Share
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *