मकान मालिक ने घर आने से रोका, 2 दिन संक्रमित महिला संग टैक्सी में रहा परिवार

मंडी। महिला के कोरोना संक्रमित आने के बाद मकान मालिक ने उसे ना आने की हिदायत दे दी। इस कारण से महिला और उसके परिवार को दो साल के बच्चे के साथ दो दिन तक टैक्सी में रहना पड़ा। मामला हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले का है।

मंडी के करसोग में टैक्सी चालक परसराम दो दिन पहले पत्नी को चेकअप के लिए शिमला ले गया था, जहां जांच के दौरान पत्नी कोरोना पॉजिटिव पाई गई। पत्नी की हालत ठीक थी, जिस पर डॉक्टरों ने परिवार को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी।

चालक परसराम पत्नी और 2 साल के बेटे के साथ घर आ गया। यह परिवार करसोग में एक दूरी के मकान पर रहता है। ऐसे में परसराम ने मकान मालिक को पूरे मामले को लेकर अवगत करवाया, लेकिन मकान मालिक ने कोरोना के खतरे को देखते हुए परसराम को कहीं और नौकरी की सलाह दी। परसराम कोरोना पॉजिटिव पत्नी और 2 साल के बेटे के साथ दो दिनों से टैक्सी में ही रहे। इस मुश्किल घड़ी में कोई भी व्यक्ति परसराम को और मदद का हाथ बढ़ाने को तैयार नहीं था।

डीएसपी को फोन लगाया
आखिर में परसराम ने डीएसपी गीतांजलि ठाकुर से मदद की गुहार लगाई। डीएसपी बिना देर किए पुलिस टीम के साथ परसराम की सहायता के लिए पहुंच गए। इस दौरान न केवल डीएसपी ने मकान मालिक से बात करके परसराम को क्वार्टर पहुंचाया, बल्कि परिवार के लिए राशन पानी की भी पूरी व्यवस्था की।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *