‘आधुनिक भारत में हिंदुत्व की कोई जगह नहीं’-असदुद्दीन ओवैसी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हाल ही में कहा था कि भारत को पाकिस्तान बनाने की कोशिश के लिए 1930 से ही मुस्लिम आबादी को बढ़ाने की कोशिशें हो रही हैं. इस पर गुरुवार को हैदराबाद लोक सभा सीट से सांसद और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया.

‘संघ के पास दिमाग की कमी’
ओवैसी ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, ‘RSS के भागवत कहते हैं कि मुसलमानों की आबादी को बढ़ाने के लिए 1930 से संगठित प्रयास किए जा रहे हैं. अगर हमारा डीएनए एक है तो गिनती क्यों? भारतीय मुस्लिम आबादी की वृद्धि दर में 1950 से 2011 के बीच तेज गिरावट आई है. संघ के पास 0 दिमाग है, उनमें मुसलमानों के प्रति 100 फीसदी नफरत भरी हुई है.’

‘भारत में हिंदुत्व का कोई स्थान नहीं’
इतना ही नहीं, ओवैसी ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘संघ मुसलमान विरोधी नफरत का आदी है और वह यह जहर समाज में फैला रहा है. इस महीने की शुरुआत में ‘हम एक हैं’ को लेकर भागवत के पूरे ड्रामे ने उनके समर्थकों को जरूर बहुत निराश किया होगा. इसलिए उन्हें मुसलमानों को नीचा दिखाने और झूठ बोलने की ओर फिर लौटना पड़ा. आधुनिक भारत में हिंदुत्व का कोई स्थान नहीं होना चाहिए.’

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *