क्या है VIP विधायकों का BJP कनेक्शन, मुकेश सहनी ने क्यों लिया यू-टर्न?

पटना. बनारस में फूलन देवी की मूर्ति लगाने के विवाद के बाद वीआईपी अध्यक्ष मुकेश साहनी ने एनडीए में सब कुछ ठीक नहीं होने की बात कही थी. विधानसभा के मानसून सत्र को लेकर बुलाई गई एनडीए की बैठक में अपने विधायकों के साथ वो शामिल नहीं हुए थे लेकिन उनके इस फैसले पर उन्हीं के विधायकों ने सवाल खड़े कर दिए. आनन-फानन में मुकेश सहनी ने भी अपने बयान पर यू-टर्न ले लिया. मुकेश साहनी को अपने ही विधायकों का साथ नहीं मिल रहा है और इसके पीछे की वजह वीआईपी के विधायकों का बीजेपी से गहरे ताल्लुकात हैं.

वीआईपी विधायकों का बीजेपी से ये है कनेक्शन
विधानसभा चुनाव में मुकेश सहनी के चार विधायक जीतकर आए हैं और इनमें से 3 विधायकों का बीजेपी से पुराना नाता रहा है. वीआईपी विधायक राजू सिंह 2015 में बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़ चुके हैं तो वहीं विधायक मिश्री लाल यादव भी बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं. बीजेपी के सक्रिय नेता रहे हैं तो वीआईपी विधायक स्वर्णा सिंह के पिता बीजेपी से एमएलसी रहे हैं. ऐसे में चार में से इन 3 विधायकों का बीजेपी से सीधा संबंध रहा है. मुकेश सहनी को अब ये डर सता रहा है कि अगर वो एनडीए के ख़िलाफ़ जाते हैं तो उनकी पार्टी में टूट हो सकती है. इन विधायकों का मुकेश साहनी के फैसले पर सवाल उठाना इस ओर इशारा भी कर रहा है.

मुकेश सहनी का यू-टर्न
कल तक एनडीए से नाराज़ चल रहे वीआईपी नेता और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी ने अब यू-टर्न ले लिया है. उन्होंने कहा है कि हमारी कोई नाराज़गी नहीं है. हम एनडीए में है. कोई बात होगी तो मिल-बैठकर दूर कर लेंगे. उन्होंने अपने विधायक राजु सिंह के बयान पर कहा है कि पार्टी में हर जाति-धर्म के लोग हैं, सबको बोलने का अधिकार है. हमारे सभी विधायक मज़बूती से हमारे साथ एकजुट हैं.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *